What is RAM || Basics of Computers

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम रैम (What is RAM) की बात करेंगे, दोस्तों अगर आप कंप्यूटर, स्मार्टफोन, टेबलेट या अन्य डिवाइस का यूज कर रहे हैं तो इसमें सबसे प्रमुख भूमिका रैम की होती हैं| रैम हमारे computer की मेमोरी होती है

आज की पोस्ट में हम निम्न प्रश्नों के समझ जाएंगे 

  • रैम क्या होती है ? (What is ram)
  • रैम का कार्य क्या होता है ? (What is the work of ram)
  • रैम का पूरा नाम क्या होता है ? (What is the full name of ram)
  • रैम प्राथमिक मेमोरी होती है या द्वितीयक मैमोरी (RAM is the primary memory or secondary memory)
  • कंप्यूटर हैंग क्यों होता है / (Why computer hangs)
  • क्या हम रैम के साइज को बढ़ा सकते है? (Can we increase the size of the RAM)

What is RAM

आप जैसे ही कोई भी डिवाइस खरीदने की सोचते हैं तो सबसे पहले आपके दिमाग में यही प्रश्न आता है कि डिवाइस की रैम(RAM) कितनी होनी चाहिए तो आपको बता दूं आप चाहे कंप्यूटर, स्मार्टफोन या टेबलेट या लैपटॉप यूज कर रहे हैं तो उस डिवाइस में जो भी एप्लीकेशन आप Run कर रहे हैं उसमें रैम की भूमिका महत्वपूर्ण होती है|रैम कंप्यूटर में हार्डडिस्क में स्टोर डेटा को cpu तक पहुंचाती है

what is RAM

रैम किसी भी डिवाइस की primary memory होती है ,जो कि स्थाई नही होती है

RAM के द्वारा ही कोई भी एप्लीकेशन RUN होती है किसी भी एप्लीकेशन की स्पीड रैम के कारण ही मिलती है जैसे कि आजकल सभी अपने मोबाइल या कंप्यूटर में मल्टी टास्किंग विंडो पर काम करना चाहते हैं तो आप यह जानते हैं कि मल्टीटास्किंग का अर्थ यह होता है कि आप एक साथ कई एप्लीकेशन का यूज एक साथ करें तो इसके लिए RAM की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है

आपकी Device में जितनी ज्यादा GB की रैम होगी, आप इतनी ज्यादा सरलता से अपना काम स्पीड से कर पाएंगे जैसे कि आपको एक उदाहरण देता हूं कि हम कंप्यूटर में या स्मार्टफोन में जब कोई गेम खेलते हैं तो गेम की एप्लीकेशन बड़ी होती है तो उनको RUN करने के लिए हमें ज्यादा GB की रैम की जरूरत पड़ेगी जितने ज्यादा GB की रैम हमारे पास होगी उतना ही हम उस एप्लीकेशन को स्पीड से RUN कर पाएंगे |

अगर हमारे पास ज्यादा GB की रैम होगी तो हमारी डिवाइस कभी hang नही होगी| हम computer में रैम की साइज़ को अपनी जरूरत के अनुसार बढ़ा सकते है जैसे _1GB,2GB,3GB…..

तो दोस्तो आप अब समझ गए होंगे कि रैम की अहमियत कितनी ज्यादा है

अब हम RAM की full फॉर्म समझेंगे

Ram full form

 

रैम का पूरा नाम होता है

  • Random Access Memory

दोस्तो रैम का पुरा नेम रेंडम एक्सेस मेमोरी है रैम अस्थाई होती है जब भी हम अपनी डिवाइस ऑफ करते है तो इसका डाटा उसी समय डिलीट हो जाता है ,जब भी हम हमारी डिवाइस को शुरू करते हैं तो रेम अपना कार्य शुरू करना Start कर देती है
जब हम हमारी डिवाइस ऑफ कर देते हैं तो रैम का कनेक्शन डिवाइस से कट जाता है ,हम हमारे डिवाइस में कोई भी सॉफ्टवेयर ओपन करते हैं तो रेम के थ्रू ही वह सॉफ्टवेयर Access होता है

रैम के कई प्रकार होती है जैसे SRAM(Static RAM) और DRAM(Dynamic RAM)

अब अच्छी तरह से जान गए होंगे कि computer में रैम क्या होती है और इसका पूरा नाम क्या होता है |

 

 

  • ram computer
  • random access memory
  • computer memory
  • ram random access memory
  • computer memory ram
  • types of ram

Read This: ROM क्या होती है ?

 

Leave a Comment